कोरोना वायरस क्या है ? कैसे बचा जा सकता है ?

Corona virus kya hai

आज विश्व के सामने एक गंभीर समस्या है। पूरा विश्व इससे काफ़ी परेशान है। अर्थात आपने कोरोना विरुद के बारे में तो जरूर सुना होगा। कोरोना वायरस सर्वप्रथम चीन से उत्पन्न होकर पूरी दुनिया में फैलता जा रहा है। और अब भारत में भी काफ़ी तेजी से फैलता जा रहा है। जिससे भारत सरकार एवं स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से लोगों को घर से न निकलने की अपील किया जा रहा है। ऐसे में आपको भी पता होना चाहिए कि कोरोना वायरस क्या है? इसके होने का कारण तथा लक्षण जिससे आप अपने आप को इससे बचा सके। तो चलिए जानते हैं कोरोना से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी।

कोरोना वायरस क्या है?

कोरोना वायरस एक ऐसा खतरनाक वायरस है जिसका संबंध वायरस के ऐसे परिवार से है, जिसके संक्रमण से जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या वाली बीमारी उत्पन्न होती है। अर्थात विश्व स्वास्थ्य संघटन के मुताबिक बुखार ,खांसी तथा सांस लेने में तकलीफ इसके प्रमुख लक्षण है। और अब तक इस वायरस को फैलने से रोकने वाला वैक्सीन(टिका) नहीं बना है। लक्षण के बारे में हम आगे भी बात करेंगे।

कोरोना वायरस का नामकरण

लैटिन भाषा में कोरोना का अर्थ मुकुट होता है और इस वायरस के ऊपर उभरे हुए कांटे जैसे आकार होते हैं अर्थात इलेक्ट्रॉन सूक्ष्मदर्शी में मुकुट जैसा आकार दिखता है जिससे इन वायरस का नाम कोरोना रखा गया। जिसे 2019 नोवेल कोरोनावायरस भी कहते हैं और इससे हुए बीमारी को covid-19 कहा गया।

कोरोना वायरस कहाँ से उत्पन्न हुआ है ?

हालांकि यह वायरस पहली बार देखा गया है। और इसकी शुरुआत सर्वप्रथम दिसम्बर 19 में चीन के वुहान शहर से उत्पन्न हुआ है। और इस वायरस की जानकारी की पुष्टि चीनी सरकार ने हीं की थी। लगभग 180+ देशों में वायरस फैल चुका है। और यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में काफी तेजी से फैलता जा रहा है।

कोरोना वायरस के लक्षण क्या है ?

  • बुखार
  • खांसी तथा छिंक
  • सिर दर्द
  • गले में दर्द
  • सांस लेने में तकलीफ

कैसे दिखाई देंगे ये लक्षण

वायरस से संक्रमित व्यक्ति में कोरोना वायरस उनके फेफड़ों में संक्रमण उत्पन्न करता है जिससे सबसे पहले बुखार ,उसके बाद सुखी खांसी तथा बाद में सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या उत्पन्न होती है।

वायरस का संक्रमण का दिखना औसतन पांच दिन में लगते हैं, हालांकि वैज्ञानिकों का कहना है कि कुछ लोगों में यह लक्षण बाद में भी देखने को मिल सकता है।
विश्व स्वास्थ्य संघटन (who) के अनुसार वायरस शरीर में पहुंचने और लक्षण दिखने के बीच 14 दिनों तक का समय हो सकता है। हालांकि कुछ जानकर की माने तो यह समय 24 दिनों तक का भी हो सकता है।
इन लक्षणों का हमेशा मतलब यह नहीं कि आपको कोरोना वायरस का संक्रमण है बल्कि आपको आम बीमारी भी हो सकता है। लेकिन आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

कोरोना वायरस से कैसे बचें ?

  1. स्वच्छता का ध्यान रखें।

आप अपने आस-पास साफ-सुथरा एवं खाने से पहले हाथ को अच्छे से धोएं।

2. आँख, कान तथा मुह को स्पर्श न करें।

आप अपने हाथ को मुंह कान तथा आँख को छूने से बचें। तथा हाथों को साबुन तथा अल्कोहल आधारित हैंड वाश से धोएं।

3. निश्चित दूरी बनाए रखें।
अगर आप किसी से बातचीत कर रहे हो तो यह ध्यान दें कि एक निश्चित दूरी पर खड़े हो। क्योंकि यह छिंक के दौरान निकलने वाले कण के द्वारा वायरस फैल सकता है।

4. भीड़-भाड़ से बचें।
आप भीड़-भाड़ के इलाके में न जाए और प्रयास करें कि घर पर रहें , सुरक्षित रहें।

5. सार्वजनिक सेवा से बचें।
अर्थात आप स्कूल, कॉलेज, वाहनों पर जाने से बचें। क्योंकि ऐसा करने से आपको वायरस संक्रमण का खतरा बढ़ सकता है।

6. खासते समय टिश्यू या कोहनी का उपयोग करें।
अगर आप खासते हों तो खासते समय टिश्यू का उपयोग करें अगर आपके पास टिश्यू नहीं है तो आप अपने कोहनी का भी उपयोग कर सकते हैं। ध्यान रखें हाथों को खासते समय उपयोग न करें । तथा इस्तेमाल किए गये टिश्यू को फेंक दें।

7. सार्वजनिक वाहन सेवा से बचें।
आप बस , ट्रेन , ऑटो ,तथा टैक्सी आदि की यात्रा करने से बचें।

8. फल तथा सब्जियों को धोकर खाएँ।
अगर आप बाजार से फल सब्जी खरीदकर लाते हैं तो आप उसे अच्छी तरह धोकर उपयोग करें।

9. हाथ मिलाने से बचें।
अगर आप किसी से मिलते हैं तो उनसे काफी नजदीकी से बातचीत तथा बातचीत के क्रम में हाथ तथा शरीर के किसी भाग को छूने से बचें।

10. मास्क का उपयोग करें।
अगर आप स्वस्थ हैं तो आपको मास्क पहनने की आवश्यकता नहीं है। लेकिन आप वायरस संक्रमित व्यक्ति की देख-भाल कर रहे हैं तो आप मास्क का उपयोग जरूर करें।

मास्क पहनने का तरीका ।

  1. मास्क को आगे से हाथ न लगाएं।
  2. मास्क पर हाथ लगाने के तुरंत बाद हाथ को अच्छे से धोयें।
  3. मास्क पहनने के दौरान आपकी कान और मुहँ अच्छी तरह से ढंका होना चाहिए।
  4. मास्क उतारते वक्त मास्क का फीता पकड़कर निकालना चाहिए। मास्क को नहीं छूना चाहिए।

भारत में कोरोना वायरस का असर

चीन से उत्पन्न कोरोना वायरस आज लगभग दुनिया भर में फैल चुका है और भारत में भी इसके कई संदिग्ध मामले सामने आया है। जिससे भारत सरकार ने कई तरह के ठोस कदम उठाया है तथा 22 फरवरी 2020 को जनता कर्फ्यू भी लगाया गया था। और 24 फरवरी 2020 के शाम को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने पूरे भारत में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन कर दिया है।

कोरोना वायरस से चीन इटली समेत कई सारे देशों में इसके कभी संदिग्ध मामले सामने आए हैं जिनमें बहुतों इससे पीड़ित तथा इससे बहुतों की मृत्यु भी हो चुकी है । आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर आंकड़ा देख सकते हो।

आकड़ा(who की) देखने के लिए क्लिक करें

अतः हमें कोरोना वायरस से संबंधित सरकार द्वारा जारी किए गए सलाह एवं नियमों को पालन करना चाहिए। क्योंकि ये हमें खुद,अपने परिवार एंव देश के लिए जरूर करनी चाहिए।

घर पर रहें , सुरक्षित रहें ।

4 thoughts on “कोरोना वायरस क्या है ? कैसे बचा जा सकता है ?”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *