Polytechnic+kya+hai

Polytechnic kya hai (what is polytechnic) पॉलिटेक्निक क्या है?

जब हम स्कूल में पढ़ाई कर रहे होते हैं तो हमारे मन में विभिन्न प्रकार के सवाल होते हैं जिसका उत्तर हम जानना चाहते हैं और यह सोचते हैं कि आगे चलकर ऐसी क्षेत्र को चुना जाए जिससे बेहतर और अच्छी जिंदगी जिया जा सके । अधिकतर लोग आपको कहते होंगे कि पॉलिटेक्निक कर लो । और आपने भी इसके बारे में सुना होगा। और आपके मन में ये सवाल जरूर होगा कि पॉलिटेक्निक क्या है (what is polytechnic) । पॉलिटेक्निक एक लोकप्रिय कोर्स होता है जिसे करके आसानी से अपने रूचि के अनुसार किसी अच्छी क्षेत्र को चयन कर उसमें पढ़ाई पूरी कर नौकरी प्राप्त किया जा सकता है। और इस कोर्स को करने के लिए आपको CET एग्जाम देना होता है जिसे कॉमन एंट्रेंस टेस्ट कहते हैं जिसमें आपको अच्छे अंक से एग्जाम को क्लियर करना होगा जिससे आपको अच्छा रैंक मिले और अच्छी कॉलेज में दाखिला मिल सके । अगर आप सरकारी कॉलेज में दाखिला लेना चाहते हैं तो आपको अच्छे रैंक लाना बहुत जरूरी है। तभी आपको अच्छा पॉलिटेक्निक कॉलेज मिलेगा नहीं तो आपको प्राइवेट कॉलेज में दाखिला लेना होगा जिसकी फीस काफी अधिक होती है क़रीब 35-50 हज़ार रुपये जबकि सरकारी कॉलेज में 10-15 हज़ार रुपये होती है।

आज हम इस प्रकार के एक सवाल के उत्तर के साथ उपस्थित हैं । जो कि निम्न विषय है –
पॉलिटेक्निक का मतलब क्या है ?

  • पॉलिटेक्निक क्या है ? (What is polytechnic)
  • पॉलिटेक्निक कोर्स (Polytechnic Course) कौन-कौन से हैं ?
  • पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेने के लिए योग्यता क्या है ?
  • पॉलिटेक्निक कोर्स कितने साल का होता है ?
  • पॉलिटेक्निक कैसे करे ?

पॉलिटेक्निक का मतलब क्या है ?

पॉलिटेक्निक दो शब्दों से मिलकर बना हुआ जो poly+technic जिसमें पॉली(poly) का अर्थ बहुत अर्थात बहुत सारे टेक्निकों का संग्रह है। और अब जानते हैं आखिर पॉलिटेक्निक क्या है –

एंड्रॉइड क्या है

पॉलिटेक्निक क्या है ?

पॉलिटेक्निक एक पोपुलर डिप्लोमा कोर्स है जिसे आप 10th पास करने के बाद या 12th पास करने के बाद कर सकते हैं इस कोर्स की मदद से आप किसी भी फील्ड में चाहे मैकेनिकल इंजिनियर हो या सिविल इंजीनियरिंग या फिर किसी भी इंजीनियरिंग फील्ड (Engineering Field) में डिप्लोमा (Diploma करना चाहते हो तो आप पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए अप्लाई करने सकते है ये कोर्स पुरे तीन साल का होता है इस कोर्स की खासियत यह है कि आप पॉलिटेक्निक कोर्स करने के बाद डायरेक्ट डिग्री के लिए B tech के सेकंड ईयर यानि दुसरे साल में एडमिशन ले सकते हैं यानि अगर आपने केमिकल इंजीनियरिंग(Chemical Engineering) में पॉलिटेक्निक से डिप्लोमा किया है तो इसके बाद अगर आप डिग्री पाना चाहते हैं तो आप डायरेक्ट B. tech के सेकंड इयर मैकेनिकल इंजीनियर में एडमिशन ले सकते है इस कोर्स में बहुत सारे कोर्स और शाखा होते हैं तो आप अपनी पसंद के हिसाब से चुन सकते हैं।

पॉलिटेक्निक कोर्स (Polytechnic Course) कौन-कौन से हैं ?

  • Architectural Assistantship
  • Art For Drawing Teacher
  • Automobile Engineering
  • Cosmetology & Health (2 Years)
  • Chemical Engineering
  • Civil Engineering
  • Civil Engineering (Construction Technology)
  • Civil Engineering (Public Health And Environment Engineering) Only For Girls
  • Applied Art, Only For Girls
  • Computer Engineering
  • Electrical Engineering
  • Electronics & Communication Engineering
  • Electronics Engineering (Digital Electronics)
  • Electronics Engineering (Medical Electronics)
  • Fashion Design, Only For Girls
  • Garment Fabrication Technology
  • Information Technology Enabled Services & Management
  • Instrumentation & Control
  • Interior Design Only For Girls
  • Library & Information Science, Only For Girls (2 Years)
  • Mechanical EngineeringMechanical Engineering (Maintenance Engineering),
  • Medical Laboratory Technology
  • Textile Design
  • Textile Processing
  • Textile Technology
  • Fashion Design
  • Food Technology
  • Garment Technology
  • Leather Technology
  • Leather Technology (Footwear)
  • Plastic Technology
  • Production And Industrial Engineering
  • Mechanical Engineering (Refrigeration And Air Conditioning)
  • Mechanical Engineering (Tool And Die)
  • Marine Engineering
  • Medical Laboratory Technology

पॉलिटेक्निक में एडमिशन लेने के लिए योग्यता क्या है ?

परीक्षार्थी (candidate) 10वीं या 12वीं पास होनी चाहिए।

पॉलिटेक्निक में दाखिला (admission) के लिए आपको कम से कम 35% फीसदी अंक होने चाहिए। विज्ञान(science), गणित (maths) और अंग्रेजी (english) मुख्य विषय (subject) होते हैं ।

पॉलिटेक्निक कोर्स कितने साल का होता है ?

पॉलिटेक्निक कोर्स तीन साल का होता है ,आपको 3 सालों में 6 बार एग्जाम देने होंगे या फिर 3 बार एग्जाम देना होगा। और एग्जाम को पास करना होगा नहीं तो आपको पुनः आपको एग्जाम देकर आगे जाना होता है ।

पॉलिटेक्निक कोर्स के फायदे

  1. पॉलिटेक्निक में आपको प्रयोगात्मक (practical) तरीके से सिखाया जाता है जिससे आपको समझने में आसानी होती है और आप अच्छे से सिख पाते हैं।
  2. पॉलिटेक्निक कोर्स में आपको बहुत सारे विकल्प मिल जाते हैं जिससे आप अपने रुचि के अनुसार जिस भी क्षेत्र में जाना चाहते हैं उसको चयन कर अच्छे से तैयारी कर सकते हैं।
  3. पॉलिटेक्निक कोर्स करने के बाद आप इंजीनियरिंग के द्वितीय वर्ष (second year) में दाखिला (admission) ले सकते हैं।
  4. पॉलिटेक्निक कोर्स करने के बाद आप जॉब के लिए आवेदन (apply) कर सकते है।
  5. पॉलिटेक्निक कोर्स करने के बाद आप डायरेक्ट डिग्री के लिए B. Tech के सेकंड ईयर यानि दुसरे साल में दाखिला ले सकते है

पॉलिटेक्निक कैसे करें

10वीं पास करें

अगर आपको पॉलिटेक्निक में दाखिला लेना है तो इसके लिए सबसे पहले आपको 10वीं पास करना होगा और कोशिश करें कि गणित (Maths) , अंग्रेजी(english) और विज्ञान(science)विषय में अच्छे अंक लाये ताकि परसेंटेज की दिक्कत न हो इन्हीं विषयों से सवाल पूछे जाते हैं साथ ही इन विषयों को समझकर पढ़े। वैकल्पिक प्रश्न यानि 4 आप्शन वाले होते हैं या फिर आप चाहे तो 12वी पास करने के बाद भी पॉलिटेक्निक (Polytechnic) कर सकते हैं या आप चाहे तो आईटीआई (ITI) करने के बाद भी इस कोर्स को कर सकते है लेकिन अगर आप 10वीं के बाद करते हैं तो अच्छा होगा।

पॉलिटेक्निक एंट्रेंस टेस्ट दे और अच्छा रैंक लाये।

जैसे हीं आप 10वीं पास करते हो तो आप पॉलिटेक्निक एग्जाम (Polytechnic Exam) का फॉर्म भर सकते है जिसे CET यानि कॉमन एंट्रेंस टेस्ट भी कहते हैं हर राज्य के हिसाब से एग्जाम होते हैं तो आप कोशिश करें कि जो भी पॉलिटेक्निक एग्जाम दे उसमें अच्छे रैंक लाने की कोशिश करें ताकि आपको अच्छा सरकारी कॉलेज मिले जैसे की आपको फीस कम लगे और एक अच्छा प्लेसमेंट यानि जॉब और सैलरी मिल सके।

अब काउंसलिंग के लिए अप्लाई करे और कॉलेज चुने

जैसे हीं आप पॉलिटेक्निक का एंट्रेंस एग्जाम क्लियर कर लेते हैं तो इसके बाद आपको काउंसलिंग करना होता है यानि कॉलेज चुनना होता है की आपको कौन-सा कॉलेज चाहिए और ये सब ऑनलाइन प्रक्रिया होता है। आपके रैंक के अनुसार आपको कॉलेज आवंटित किए जाते हैं। अर्थात रैंक के अनुसार आपको कॉलेज दिया जाता है

पॉलिटेक्निक की पढाई पूरी करें।

जैसे हीं आपको कॉलेज मिल जाता है और एडमिशन प्रक्रिया पूरा हो जाता है तो उसके बाद आपको कॉलेज जाना होगा जिस तरह स्कूल जाते हैं तो वह आपको पढ़ाया जाता है जो भी विषय आप चुनते हैं। और आपको हर एग्जाम पास करना होगा और ध्यान रहे आपको अच्छे मार्क्स लाने है ताकि आपको कंपनी जॉब दे सकते अच्छी सैलरी पर। क्योंकि कोई भी कंपनी चाहेगा कि उसे अच्छी क्लाइंट मिले।

इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें।

पॉलिटेक्निक की पढाई पूरी करने के बाद आपके कॉलेज में कंपनी आते हैं आपको जॉब देने के लिए तो आपको वह इंटरव्यू क्लियर करना होगा तो अगर आपने अच्छे से पढ़ा है और आपके अच्छे मार्क्स है तो आप आसानी से इंटरव्यू की प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं और जॉब पा सकते हैं या फिर आप चाहे तो इंटर्नशिप न करके सीधा डायरेक्ट बी टेक( B Tech) के सेकंड ईयर में एडमिशन लेके अपनी आगे की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं। बहुत से लोग कंफ्यूज होते है पॉलिटेक्निक करने के बाद क्या करे ? तो इसके बाद आप चाहे तो इंजीनियरिंग की डिग्री कर सकते है या डायरेक्ट सेकंड इयर में एडमिशन लेके पढाई जारी रख सकते हो। तो इस तरह आप पॉलिटेक्निक (Polytechnic) कोर्स पूरा कर सकते हैं।

1 thought on “Polytechnic kya hai (what is polytechnic) पॉलिटेक्निक क्या है?”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *